भगत सिंह के अनमोल वचन | Bhagat Singh Quotes in Hindi

Bhagat Singh quotes in Hindi – भगत सिंह भारत के एक महान क्रांतिकारी नेता थे। उन्होंने अपने विचारों से दुनिया को बहुत ज्यादा प्रभावित किया। उनके अनमोल वचन आज भी बहुत ज्यादा प्रचलित है। भगत सिंह ने देश की हर एक नौजवान को अपने अनमोल वचनों से प्रेरित किया और उन्हें आजादी के उस महान संग्राम में लाने के लिए भी प्रोत्साहित किया।

आज इस पोस्ट में हम भगत सिंह के अनमोल वचन (Bhagat Singh quotes) को पढ़ेंगे। तो आइए दोस्तों शुरू करते हैं।

भगत सिंह का संक्षिप्त परिचय (Brief Intro to Bhagat Singh)

नामभगत सिंह (Bhagat Singh)
जन्म28 सितंबर 1907, बंगा, वर्तमान पाकिस्तान
माताविद्यावती
पिताकिशन सिंह संधू
मृत्यु23 मार्च 1931, लाहौर सेंट्रल जेल, लाहौर, पाकिस्तान 
उम्र 23 वर्ष

भगत सिंह के अनमोल वचन 1-10 तक (Bhagat Singh Quotes in Hindi 1 to 10)

भगतसिंह के अनमोल वचन (Bhagat Singh quotes in Hindi) –

इस कदर वाकिफ है मेरी कलम मेरे जज़्बातों ‌से, अगर‌ मैं इश्क भी लिखना चाहूँ तो‌ इंकलाब लिखा जाता है। - Bhagat Singh Quote

#1. इस कदर वाकिफ है मेरी कलम मेरे जज़्बातों ‌से, अगर‌ मैं इश्क भी लिखना चाहूँ तो‌ इंकलाब लिखा जाता है।

In English: I am so aware that my pen is aware of my feelings, even if I want to write love, then Inquilab is written.

#2. सीने पर जो जख्म है, सब फूलों के गुच्छे हैं; हमें पागल ही रहने दो, हम पागल ही अच्छे हैं।

In English: The wounds on the chest are all bunches of flowers;  Let us be mad, we are good as mad.

#3. जिंदगी तो सिर्फ अपने कंधों पर जी जाती है, दूसरों के कंधों पर तो सिर्फ जनाजे उठते हैं।

In English: Life is lived only on one’s own shoulders, only funerals are raised on the shoulders of others.

#4. वे मुझे मार सकते हैं, लेकिन वे मेरे विचारों को नहीं मार सकते। वे मेरे शरीर को कुचल सकते हैं, लेकिन वे मेरी आत्मा को कुचल नहीं पाएंगे।

In English: They may kill me, but they can’t kill my ideas. They can crush my body, but they will not be able to crush my spirit.

मेरा केवल एक ही धर्म है और वह देश की सेवा करना है। - Bhagat Singh Quote

#5. मेरा केवल एक ही धर्म है और वह देश की सेवा करना है।

In English: I have only one religion and that is to serve the country.

#6. मनुष्य का कर्तव्य है प्रयास करना और मेहनत करना, सफलता अवसर और वातावरण पर निर्भर करती है।

In English: But man’s duty is to try and endeavor, success depends on chance and environment.

#7. राख का हर एक कण मेरी गर्मी से गतिमान है, मैं एक ऐसा पागल हूँ जो जेल में भी आज़ाद है।

In English: Every particle of ashes is moving by my heat, I am such a lunatic who is free even in prison.

सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है, देखना है जोर कितना बाजुए कातिल में है। - Bhagat Singh

#8. सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है, देखना है जोर कितना बाजुए कातिल में है।

In English: Sarfaroshi’s desire is now in our heart, it is to be seen how much emphasis is in the murderer.

#9. अगर बहरों को सुनना है तो आवाज बहुत तेज होना होगा।

In English: If deaf are to hear, then the sound has to be very loud.

#10. प्रेमी, पागल और कवि एक ही चीज से बन होते हैं।

In English: Lovers, lunatics, and poets are made of the same stuff.

यह भी पढ़ें – सुभाष चन्द्र बोस के अनमोल वचन

भगत सिंह के अनमोल वचन 11-20 तक (Bhagat Singh Quotes in Hindi 11 to 20)

भगतसिंह के अनमोल वचन 11-20 तक (Bhagat Singh quotes in Hindi) –

तर्क किए बिना किसी भी बात को आंख मूंदकर मान लेना भी एक प्रकार की गुलामी है। - भगत सिंह जी

#11. तर्क किए बिना किसी भी बात को आंख मूंदकर मान लेना भी एक प्रकार की गुलामी है।

In English: Blindly believing in anything without reasoning is also a kind of slavery.

#12. जो व्यक्ति उन्नति के लिए राह में खड़ा होता है उसे परंपरागत चरण की आलोचनाएं व विरोध करना होगा। साथ ही उसे चुनौती देनी होगी।

In English: The person who stands in the way of progress will have to criticize and oppose the traditional stage.  Also, he has to challenge.

#13. आदमी को या तो खुद को भगवान का प्रतिद्वंद्वी समझना शुरू कर देना चाहिए या वह खुद को भगवान मानने लग सकता है।

In English: The man should either begin to think himself a rival of God or he may begin to believe himself to be God.

दुल्हन, मेरी दुल्हन नहीं होगी, आजादी ही मेरी दुल्हन होगी। - Bhagat Singh Quotes in Hindi

#14. दुल्हन, मेरी दुल्हन नहीं होगी, आजादी ही मेरी दुल्हन होगी।

In English: The bride will not be my bride, Azadi will be my bride.

#15. क्या आपको मालूम है कि दुनिया में सबसे बड़ा पाप गरीब होना है। गरीबी एक सजा है, यह एक अभिशाप है।

In English: Do you know that being poor is the biggest sin in the world? Poverty is a punishment, it is a curse.

#16. पिस्तौल और बम क्रांति नहीं लाते बल्कि इंकलाब की तलवार विचारों की सान पर तेज होती है।

In English: Pistols and bombs do not bring revolution, but the sword of revolution is sharpened at the heart of ideas.

इस संसार में हर इंसान का जन्म सिद्ध अधिकार है उसकी खुद की स्वतंत्रता। जिसे कोई खत्म नहीं कर सकता। - Bhagat Singh Quotes in Hindi

#17. इस संसार में हर इंसान का जन्म सिद्ध अधिकार है उसकी खुद की स्वतंत्रता। जिसे कोई खत्म नहीं कर सकता।

In English: The birth right of every human being in this world is his own freedom.  which no one can eliminate.

#18. महान आवश्यकता के समय, हिंसा अनिवार्य है।

In English: In times of great need, violence is inevitable.

#19. श्रम ही समाज का वास्तविक निर्वाहक है।

In English: Labour is the real sustainer of society.

#20. मैं एक आदमी हूं और मानव जाति को प्रभावित करने वाली हर चीज मुझसे संबंधित है।

In English: I am a man and all that affects mankind concerns me.

यह भी पढ़ें – रबीन्द्रनाथ टैगोर के अनमोल वचन

अंतिम शब्द (Final Words)

तो दोस्तों बस, आज की भगत सिंह के अनमोल वचनों (Bhagat Singh quotes) की इस पोस्ट में इतना ही। उम्मीद करते हैं कि आपको भगत सिंह के अनमोल वचन बहुत ज्यादा इंस्पायरिंग लगे होंगे और उनसे आपने कुछ सीखना होगा।

भगत सिंह इन अनमोल वचनों (Bhagat Singh quotes) को पढ़कर हरेक व्यक्ति के खून में उबाल आ जाता है। 

अगर आपका कोई सुझाव हो तो आप नीचे कमेंट करके जरूर बताना। यहां तक पढ़ने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।

यह भी पढ़ें – स्वामी विवेकानंद जी के अनमोल वचन

FAQs

भगत सिंह के सबसे अच्छे अनमोल वचन बताइए।

उत्तर- भगतसिंह के अनमोल वचन (Bhagat Singh quotes in Hindi) –
1. इस कदर वाकिफ है मेरी कलम मेरे जज़्बातों ‌से, अगर‌ मैं इश्क भी लिखना चाहूँ तो‌ इंकलाब लिखा जाता है।
2. सीने पर जो जख्म है, सब फूलों के गुच्छे हैं; हमें पागल ही रहने दो, हम पागल ही अच्छे हैं।
3. जिंदगी तो सिर्फ अपने कंधों पर जी जाती है, दूसरों के कंधों पर तो सिर्फ जनाजे उठते हैं।
4. वे मुझे मार सकते हैं, लेकिन वे मेरे विचारों को नहीं मार सकते। वे मेरे शरीर को कुचल सकते हैं, लेकिन वे मेरी आत्मा को कुचल नहीं पाएंगे।

भगत सिंह जी कब शहीद हुए थे?

उत्तर- भगत सिंह जी को 23 मार्च 1931 को लाहौर सेंट्रल जेल, लाहौर में ब्रिटिश इंडिया सरकार ने फांसी दी थी।

Leave a Comment

0 Shares
Share via
Copy link